ओमिक्रोन का तांडव – 9 दिन में 30 देशों तक पहुंचा, डेल्टा से कितना खतरनाक है ओमिक्रोन वैरीएंट?

ओमिक्रोन वैरीएंट महज 9 दिन के अंदर 30 देशों तक पहुंच चुका है| तो हम सोच सकते हैं की यह नया वायरस कितना संक्रामक है और कितनी तेजी से पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रहा है| इससे हमें यह भी सोचने की जरूरत है कि हम खुद इसकी चपेट में आने से कैसे बचे| कल तक यह वायरस भारत में नहीं पहुंचा था लेकिन कल कर्नाटक राज्य से दो ओमिक्रोन संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं जिससे पूरे देश में इसके फैलने का खतरा और अधिक बढ़ चुका है|


इस नए वैरीएंट का प्रभाव डेल्टा वेरिएंट से कई गुना ज्यादा है| डेल्टा वैरीएंट के कारण भारत में दूसरी लहर आई थी| अब माना जा रहा है कि ओमिक्रोन वेरिएंट के कारण तीसरी की लहर आ सकती है|


आइए जानते हैं डेल्टा वेरिएंट से कितना ज्यादा खतरनाक है ओमिक्रोन वैरीएंट-

ओमिक्रोन में कुल 53 म्यूटेशन हो चुके हैं, जिसमें से 32 म्यूटेशन उसके स्पाइक प्रोटीन में हुए हैं| साथ ही ओमिक्रोन के रिसेप्टर बाइंडिंग डोमेन में भी 10 म्यूटेशन हो चुके हैं| जबकि डेल्टा वेरिएंट के स्पाइक प्रोटीन में कुल 18 म्यूटेशन हुए हैं| स्पाइक प्रोटीन के जरिए ही वायरस शरीर में प्रवेश करता है| साथ ही डेल्टा वैरीएंट में 2 ही म्यूटेशन हुआ है|


रिसेप्टर बाइंडिंग डोमेन वायरस का वह भाग है जो इंसान के शरीर के सेल से सबसे पहले संपर्क में आता है|


माना जा रहा है ओमिक्रोन की r-value डेल्टा से करीब 6 गुना अधिक है| इसका मतलब यह है कि ओमिक्रोन से संक्रमित मरीज 35-45 लोगों में संक्रमित फैलाएगा| जबकि डेल्टा वेरिएंट की r-value 6 -7 थी| इसका मतलब यह है कि डेल्टा वैरीएंट से संक्रमित एक व्यक्ति 6-7 लोगों तक इस संक्रमण को फैलाएगा|


तो हम सोच सकते हैं कि डेल्टा वैरीएंट की तुलना में ओमिक्रोन वैरीएंट कितना ज्यादा संक्रामक है|

इन देशों ने लगाए प्रतिबंध-


(1) इजराइल ने 14 दिनों के लिए विदेशों से आने वाले लोगों पर देश में आने की पाबंदी लगा दी है|
(2) जापानी 1 महीने के लिए विदेशों से आने वालों के लिए अपनी सीमाएं बंद कर दी हैं|
(3) मोरक्को नहीं सभी देशों से आने वाले सभी उड़ानों को 2 सप्ताह के लिए सस्पेंड कर दिया है|

ओमिक्रोन की लक्षणों की बात करें तो, स्वाद और गंध को छोड़कर डेल्टा और ओमिक्रोन के सभी लक्षण जैसे – गले में खराश, जुखाम, सिर दर्द, बुखार, थकान एक जैसे ही हैं| माना जा रहा है कि ओमिक्रोन में स्वाद या गंदे नहीं जाती है| हालांकि डब्ल्यूएचओ ने कहां है कि अभी इस बात का कोई सबूत नहीं है कि ओमिक्रोन वेरिएंट के लक्षण कोरोना के पहले के वैरीएंटो के लक्षणों से अलग हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *