कुमाऊं की लड़की ने किया, तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवार्ड अपने नाम

पिथौरागढ़। सल्लोडा गांव निवासी शीतल राज कुमाऊँ मंडल विकास निगम के साहसिक पर्यटन अनुभाग में कार्य करती है। 25 वर्षीय शीतल राज माउंट एवरेस्ट फतह करने वाली सबसे कम उम्र की लड़की है इसके लिए शीतल राज को आगामी 13 नवंबर को तेनजिंग नोर्गे नेशनल एडवेंचर अवॉर्ड से राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा नवाजा जाएगा।

वर्ष 2018 में शीतल ने 8586 मीटर ऊंची माउंट कंचनजंगा पर आरोहण किया था इसके साथ ही शीतल राज ने सतोपंथ व त्रिशूल जैसी कई अन्य चोटियों पर भी आरोहण किया था। वर्ष 2021 में शीतल ने यूरोप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एलब्रुस पर भारतीय झंडा लहराया।

केएमवीएन के महाप्रबंधक एपी बाजपेयी ने कुमाऊं की बेटी को यह पुरस्कार मिलना बहुत बड़ी उपलब्धि बताया। शीतल ने बताया कि एवरेस्ट पर चढ़ने का शौक उन्हें बचपन से था शीतल बचपन में अपनी मां के साथ जंगल जाया करती थी। तभी से उसे चोटियों पर चढ़ना काफी पसंद था व लोगों ने भी उसे इस बारे में प्रेरित किया। शीतल के पिता उमाशंकर राज पिथौरागढ़ में टैक्सी चलाते है। व माता ग्रहणी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *