दिल्ली की धुंध लाई उत्तराखंड के पर्यटक व्यवसाय को पटरी पर

2 दिन पहले हुई दिवाली में दिल्ली व महानगरों में हद से ज्यादा आतिशबाजी होने से आसमान में काफी धुंध छा गई है। शहरों में काफी प्रदूषण फैल गया है शहर के आकाश में छाई धुंध सेहत के लिए काफी हानिकारक है। इसलिए दिवाली के बाद लोग महानगरों से उत्तराखंड के अलग-अलग क्षेत्रों में घूमने के लिए आ रहे है। इससे उत्तराखंड के पर्यटन व्यवसाय को काफी लाभ मिला है।

उत्तराखंड में बीते दिनों आई आपदा के कारण उत्तराखंड के पर्यटन व्यवसाय को भी काफी नुकसान झेलना पड़ा होटल मालिकों की रोज लाखों की बुकिंग कैंसिल हो रही थी जिस कारण उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ा मगर दीपावली के बाद मानो उनके सभी नुकसानो की भरपाई हो रही है। इससे होटल के मालिक काफी खुश नजर आ रहे है। बीते शनिवार को महानगरों से नैनीताल, हरिद्वार ,ऋषिकेश ,मुक्तेश्वर आदि जगहों पर पर्यटन हजारों की संख्या में घूमने आए व हाईवे पर स्थित सभी होटल भी बुक हो चुके है।

नैनीताल में मल्लीताल कार पार्किंग पर्यटकों के निजी वाहनों से भर चुकी है व बीते शनिवार को पर्यटकों की संख्या ज्यादा होने से सड़कों पर काफी जाम भी देखने को मिला पर्यटकों की आवाजाही को देखते हुए नैनीताल की क्षेत्रीय पुलिस ने अपनी फोर्स को और अधिक बढ़ाया ताकि वह पर्यटकों को जाम से मुक्ति दिला सके। इसके बाद नैनी झील में पर्यटको ने नौकायान का लुफ्त भी उठाया बाद में रिवर राफ्टिंग के वक्त भी पर्यटकों की काफी संख्या होने की वजह से रिवर राफ्टिंग के लिए भी मारामारी रही मगर जो भी कहो दीपावली से महानगरों में प्रदूषण होने से उत्तराखंड के पर्यटन व्यवसाय को काफी राहत मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *