बड़ी खबर : कोविड की पहली लहर में निधन के बाद परिजन कर चुके थे बरसी, लेकिन अब भी अस्पताल में ही मिला शव

Covid काल कितना कष्ट भरा रहा यह हम सभी भली-भांति जानते हैं| हम सभी ने अपने स्वजनों, परिचितों अथवा परिजनों को covid के समय में काल का गास बनते देखा है।

लेकिन जरा सोचिए यदि आपके किसी परिजन का निधन कोरोना की पहली लहर में हो गया हो आप ने उनकी वार्षिक बरसी भी कर दी हो लेकिन आपको अपने उस परिजन का शव १ वर्ष बाद अस्पताल की मोर्चरी में ही मिले तो?

प्रशासन की लापरवाही के चलते ऐसा ही कुछ हुआ है कर्नाटक में, जहां 2 शव 1 साल से अपने अंतिम संस्कार का इंतजार कर रहे हैं| इन दोनों की मौत 1 साल पहले हो चुकी थी लेकिन प्रशासन की लापरवाही के चलते इनका शव अब तक अस्पताल की मोर्चरी में ही रह गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *