बागेश्वेर:- कपकोट में शुरु हुई आपदा प्रबंधन की द्वि दिवसीय कार्यशाला

गरुड़ (बागेश्वर)। उत्तराखंड प्रशासनिक अकादमी नैनीताल के तत्वाधान में कपकोट विकास खण्ड सभागार आज से द्वि दिवसीय आपदा प्रबंधन के विभिन्न आयाम विषय पर आधारित कार्यशाला शुरु हो गयी हैं।
इस अवसर पर मुख्य अतिथि उपजिलाधिकारी अनुराग आर्या ने कहा कि आपदा प्रबंधन के लिए जागरूकता अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि आपदा कहीं भी व कभी भी आ सकती है। कपकोट क्षेत्र आपदा की दृष्टि से काफी संवेदनशील है उन्होंने आपदा के प्रति सचेत रहने को कहा।


खंड विकास अधिकारी ख्याली राम ने कहा कि कपकोट क्षेत्र आपदा की दृष्टि से बेहद संवेदनशील है। नैनीताल से आई कार्यक्रम निदेशक डॉ मंजू पांडे ने आपदा के विभिन्न चरणों की तैयारी की आवश्यकता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हमें आपदा के कारणों को जानना होगा तथा इसके साथ ही जनता को जागरूक रहना होगा।
पौधारोपण करके भी आपदा पर अंकुश लगाया जा सकता है। आपदा से बचाव की जानकारी से आपदा के प्रभाव को कम किया जा सकता है। अग्निशमन विभाग के प्रशिक्षक भुवन चौबे ने अग्नि कांड व भूकंप से बचाव की जानकारी मॉक ड्रिल के माध्यम से दी।
प्रशिक्षण में विभिन्न क्षेत्रों के राजस्व उपनिरीक्षक, ग्राम विकास अधिकारी, पुलिस व पीआरडी के जवान व युवक, मंगल दल के सदस्य, आपदा मित्र आदि प्रतिभाग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *