आपसी संबंधों में बढ़ने लगी मिठास, घटने लगी खटास

भारत-नेपाल संबंध सुधरने का दिखने लगा असर|

काठमांडू – नेपाल के साथ कभी भारत के मधुर संबंध हुआ करते थे| चीन की दादागिरी के बाद तथा अन्य कुछ कारणों की वजह से इन दो पड़ोसियों के आपसी संबंधों में मनमुटाव बढ़ता गया| नेपाल में शेर बहादुर देउबा के प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत और नेपाल के बीच संबंधों में मिठास बढ़ने से दोनों देशों के नागरिकों में प्रसन्नता का भाव देखा जा सकता है| नेपाल सरकार इस बीच भारत के साथ आपसी विश्वास बढ़ाने के लिए कोशिश कर रही है| यह बात स्पष्ट है कि भारत और नेपाल के बीच मनमुटाव तब बढ़ गया था जब 2015 में नेपाल ने नया संविधान बनाया, बाद में नेपाल की चीन के साथ नजदीकी बढ़ने से भी भारत के साथ उसके संबंध में खटास बढ़ने लगी|

इस वर्ष जुलाई में शेर बहादुर देउबा के प्रधानमंत्री बनने के बाद नेपाल ने भारत के साथ अलग-अलग तरीकों से संबंध सुधारने की कोशिश शुरू की, जिसका असर अब दिखाई देने लगा है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *