यशपाल आर्य पर आई आंच को नहीं बर्दाश्त कर पाए हरीश रावत, और फिर किया…..

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य पर आई आंच को बर्दाश्त नहीं कर पाए और उन्होंने आज यानी कि 7 दिसंबर 2021 को मंगलवार के दिन सुबह 10:00 बजे से 11:00 बजे तक मौन उपवास धारण किया। दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का कहना है कि खनन माफिया का सत्तारूढ़ दल से गठबंधन बना हुआ है उनका कहना है, कि सरकार की उत्तराखंड में अपनी मनमानी चल रही है यहां पर आम जनता के मौलिक कर्तव्यों की कोई अहमियत है ही नहीं। उन्होंने यह भी कहा कि यशपाल आर्य पर प्राणघातक वार करना और बाद में उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाना एक बहुत ही बड़ी सोची समझी साजिश है।

तथा उनका कहना है कि अभी तक पुलिस ने यशपाल आर्य के द्वारा की गई कंप्लेंट में दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया है लेकिन पुलिस ने गठबंधन के कहने पर यशपाल आर्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया है। तथा कुछ लोग उत्तराखंड जैसे छोटे राज्य को माफिया राज्य में परिवर्तन करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं और यह वर्तमान में चल रही परिस्थितियों से सच होता दिखाई दे रहा है। उनका कहना है कि यदि इसी प्रकार की मनमानी राज्य में लोग करेंगे तो कांग्रेस का उत्तराखंड को आदर्श राज्य बनाने का सपना एक सपना ही बनकर रह जाएगा। तथा यशपाल आर्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने पर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत काफी क्रोधित भी हुए और अपना क्रोध उन्होंने 1 घंटे के मौन उपवास से जताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *