उत्तराखंड की जेलों से हो रही थी नशे की तस्करी, एसटीएफ ने किया खुलासा

उत्तराखंड राज्य के अनेक जिलों से नशे की तस्करी हो रही थी जिसका खुलासा एसटीएफ की टीम ने किया है राज्य में अलग-अलग जिलों के जेलों में बंद कैदी नशे की तस्करी कर रहे थे जिसमें अल्मोड़ा की जेल भी शामिल है। अल्मोड़ा की जेल से महिपाल उर्फ बड़ा तथा उसका मित्र अंकित बिष्ट उर्फ अंगीदा नशे की तस्करी कर रहे थे जिसमें एसटीएफ की टीम ने उनसे एक मोबाइल फोन और₹24000 की धनराशि बरामद की है।

राज्य में नशे के खिलाफ अभियान में एसटीएफ की 7 टीमें बनाई गई तथा एसटीएफ की टीम ने अल्मोड़ा देहरादून ऋषिकेश आदि जिलों की जेलों में छापा मारा। एसटीएफ के एसएसपी अजीत सिंह ने बताया कि महिपाल ऋषिकेश हत्याकांड के मामले में अल्मोड़े की जेल में आजीवन कारावास काट रहा है। तथा महिपाल सिंह से 3 हेडफोन ₹24000 की धनराशि तथा एक सिम व फोन बरामद हुआ है। ना सिर्फ अल्मोड़ा बल्कि राज्य के आठ जिलों की जेलों में भी छापेमारी हुई है जिसमें पुलिस ने गोविंदनगर निवासी संतोष को 5 किलो गांजा, अंग्रेजी शराब की 10 पेटियों, तथा ₹85885 की धनराशि के साथ तथा पटेलनगर निवासी संतोष रावत को 1 किलो चरस के साथ, कोटद्वार निवासी भास्कर नेगी को 465 ग्राम चरस और₹40810 की धनराशि के साथ गिरफ्तार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *