8 साल बाद आया फैसला, जाने किसने किया था प्रधानमंत्री मोदी की रैली में बम ब्लास्ट

8 साल पहले 2013 में नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार थे, तब बिहार की राजधानी पटना में उनकी रैली के दौरान ऐतिहासिक गांधी मैदान और पटना जंक्शन पर कुछ लोगों ने बम धमाका कर दिया था। जिसमें छह लोगों की मौत हो गई, तथा 89 लोग घायल हो गए थे। इन्हीं बम धमाकों के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी की विशेष अदालत द्वारा 4 दोषियों को फांसी की सजा तथा 2 को आजीवन कारावास एवं 2 दोषियों को 10 वर्ष की सजा सुनाई गई।


इन दोषियों को न्यायधीश गुरविंदर सिंह मल्होत्रा की अदालत में दोषी करार दिया गया। तथा आज सुबह ही इन दोषियों को सजा सुनाई गई। सजा पाने वाले दोषी इम्तियाज अंसारी, हैदर अली, नोमान अंसारी, मुजीबुल्लाह अंसारी, को फांसी की सजा सुनाई गई है। तथा उमर सिद्दीकी ,अजहरुद्दीन को उम्रकैद व अहमद हुसैन, फीरोज असलम को 10 साल की सजा तथा इफ्तेखार आलम को 7 साल की सजा सुनाई गई है।

गांधी मैदान तथा पटना जंक्शन पर यह बम ब्लास्ट 27 अक्टूबर 2013 को हुआ था तथा 8 साल बाद इस घटना का फैसला आ रहा है। इस बम ब्लास्ट की साजिश रांची और रायपुर में की गई थी व इसकी योजना इंडियन मुजाहिद्दीन के जिहादियों द्वारा बनाई गई थी। तथा इस घटना को अंजाम देने के लिए आतंकी रैली की सुबह ही पटना पहुंच गए थे। उनमें से एक आतंकी की मौत बम ब्लास्ट के दौरान ही हो गई थी। इस बम ब्लास्ट में निशाना नरेंद्र मोदी को बनाया गया था। मगर इसकी चपेट में जनता आ गई।

One thought on “8 साल बाद आया फैसला, जाने किसने किया था प्रधानमंत्री मोदी की रैली में बम ब्लास्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *