अनुकृति गुसाईं कि विधानसभा चुनाव में टिकट की दावेदारी को लेकर पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत ने कहा…..

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव में कुछ ही वक्त से रह गया है| जिसे लेकर सभी पार्टियों ने कमर कस ली है| इसी दौरान अनुकृति गुसाईं कि विधानसभा चुनाव में टिकट की दावेदारी को सही ठहराते हुए पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत ने कहा अगर अनुकृति चुनाव लड़ना चाहती है तो इसमें कोई बुराई नहीं है| कैबिनेट मंत्री डॉ हरक सिंह रावत की पुत्रवधू अनुकृति गुसाईं अपनी राजनीति में आने की इच्छा जाहिर कर चुकी है| इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि टिकट किसे देना है और किसे नहीं यह तय करना भाजपा के शीर्ष नेतृत्व का काम है| अनुकृति चुनाव लड़ती है तो इसमें कोई बुराई नहीं है| उन्हें अपनी दावेदारी करनी भी चाहिए|

कैबिनेट मंत्री डॉ हरक सिंह रावत पहले कहीं बाल आगामी विधानसभा चुनाव न लड़ने की बात कह चुके हैं| इससे यह अनुमान लगाया जा रहा है कि ऐसे में डॉ हरक सिंह रावत अपनी पुत्रवधू के लिए टिकट की मांग कर सकते हैं| जिस पर लंबे समय से चर्चा हो रही है|

अनुकृति गुसाई ने कहा कि त्रिवेंद्र रावत उनके पिता के समान है| यदि उन्होंने कुछ कहा है तो कुछ सोच कर कहा होगा| अनुकृति ने बताया जब वह मिस इंडिया ग्रैंड इंटरनेशनल चुनी गई थी, तक तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उनका बड़ा स्वागत करने के साथ ही अनुकृति गुसाईं को बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ ब्रांड अम्बेसडर भी बनाया था|

प्रेस वार्ता के दौरान अनुकृति गुसाईं ने राजनीति में इच्छा जाहिर करते हुए कहा कि लैंसडौन की बेटी हूं| अगर वहां की जनता और पार्टी चाहेगी तो मैं जरूर चुनाव लडूंगी| जब प्रदेश के मुख्यमंत्री युवा है तो अधिक से अधिक युवाओं को आगे आना चाहिए| उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में लैंसडौन की बेटियां उनसे जुड़ी हुई है| यहां की महिलाओं की समस्याओं को सुनकर ऐसा लगता है अगर यहां की महिलाओं को नेतृत्व मिला तो काफी हद तक उनकी समस्याओं को सुलझाया जा सकता है| महिलाओं को अभी भी वहां स्वास्थ्य सुविधाएं अच्छी नहीं मिल पा रही है| अनुकृति का कहना है वहां की महिलाएं स्वावलंबी बने और रोजगार से जुड़े|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *