31 अक्टूबर -: जाने आज के दिन का इतिहास

1875 -: सरदार वल्लभभाई पटेल का जन्म.

1920 -: कांग्रेस का शुरूआती सत्र ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन बम्बई में आयोजित.

1941 -: लगभग 15 वर्ष की मेहनत के बाद दक्षिण डेकोटा की ब्लैक हिल्स में माउंट रेशमोर नेशनल म्यूजियम का काम पूरा हुआ, जहां पहाड़ियों पर अमेरिका के चार राष्ट्रपति जॉर्ज वाशिंगटन, थॉमस जेफरसन, थिओडोर रूजवेल्ट और अब्राहम लिंकन के चेहरे तराशे गए.

1966 -: भारतीय तैराक मिहिर सेन ने पनामा नहर को तैरकर पार किया.

1968 -: अमेरिका के राष्ट्रपति लिंडन बी जॉनसन ने उत्तरी वियतनाम में अमेरिकी बमबारी रोकने का आदेश दिया.

1984 -: भारत की पहली और एकमात्र महिला प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की उनके सिख अंगरक्षकों के हाथों हत्या.

1992 -: लाइबेरिया में पांच अमेरिकी नन की हत्या का ऐलान किया गया. हत्याओं के लिए चार्ल्स टेलर के प्रति आस्थावान बागियों को जिम्मेदार ठहराया गया.


1517-: मार्टीन लूथर ने विटेनवर्ग चर्च के द्वार पर अपनी 95 आपत्तियाँ चिपकाई। इसी के साथ जर्मनी में प्रोटेस्टेंट सुधारों का आरंभ हो गया.

2003-: मलेशिया में महातिर युग का अंत. प्रधानमंत्री महातिर मोहम्मद ने 22 वर्ष तक सत्ता में रहने के बाद पद छोड़ा.

2014 -: राष्ट्रीय एकता दिवस. भारत के राजनीतिक एकीकरण के लिए सरदार वल्लभ भाई पटेल के योगदान को चिरस्थाई बनाए रखने के लिए उनके जनमतिथि ३१ अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस में मनाया जाता है। इसका आरम्भ भारत के प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी ने सन २०१४ में किया.

2006 -: दक्षिण अफ्रीका में रंगभेद युग के राष्ट्रपति पी डब्ल्यू बोथा का 90 वर्ष की आयु में निधन.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *