त्योहारी सीजन सस्ता, होगा तेल और तिलहन

त्योहारी सीजन को देखते हुए व लोगों की बाजार में तेल की मांग को देखते हुए केंद्र राज्य के साथ बैठक करके खाद्य तेलो की कीमतों को कम करने की कोशिश कर रहा है बीते रविवार को केंद्र द्वारा यह बात कही गई थी कि केंद्र 25 अक्टूबर यानी कि आज बैठक करेगा तथा उसमें तेलो के भंडार रखने के अपने आदेश पर राज्यों द्वारा की गई कार्यवाही की समीक्षा करेगा.

10 अक्टूबर को केंद्र द्वारा कुछ आयातकों और निर्यातकों को छोड़ बाकी सभी खाद्य तेलों और तिलहनो के व्यापारियों की भंडारण सीमा तय कर दी गई इसका उद्देश्य उपभोक्ताओं को खाद्य तेल की कीमतों में राहत प्रदान करना था.

त्योहारी मांग को देखते हुए बाजारों में तेल की कमी को देखते हुए पिछले दिनों बाजार में मूंगफली सोयाबीन सरसों आदि के तेलों के दाम में काफी बढ़ोतरी हुई मगर बदलते मौसम के साथ बाजारों में सोयाबीन और मूंगफली के तेलो की मात्रा में काफी बढ़त हो चुकी है हालाकी बरसात की वजह से कुछ फसलें खराब भी हो गई थी मगर बाजार में इन तेलो की मात्रा अधिक होने से ग्राहकों को इनके दाम में राहत मिल सकती है केंद्र व राज्य इसके लिए काफी प्रयासरत हैं जिससे आमजन को राहत मिल सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *