पांचवीं विधानसभा चुनाव की दहलीज पर उत्तराखंड :- धामी सबसे युवा तो तिवारी सबसे बुजुर्ग मुख्यमंत्री

उत्तराखंड राज्य अपनी स्थापना के 21 वर्ष पूरे कर चुका है वर्ष 2022 अब महज 30 दिन दूर है और लगभग 30 दिन से कुछ ज्यादा दूर है उत्तराखंड के पांचवे विधानसभा चुनाव,

उत्तराखंड की स्थापना के बाद 2002 में राज्य में पहले विधानसभा चुनाव हुए जिसमें भारतीय जनता पार्टी को 19 सीटें बहुजन समाज पार्टी को 7 सीटें भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को 36 सीटें उत्तराखंड क्रांति दल को 4 सीटें राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को 1 सीट जबकि तीन निर्दलीय विधायक चुने गए। पहले विधानसभा चुनाव के बाद नारायण दत्त तिवारी राज्य के पहले निर्वाचित मुख्यमंत्री बने और अब तक के एकमात्र ऐसे मुख्यमंत्री जो अपना कार्यकाल पूरा कर पाए हो।

इन 21 सालों में राज्य में 4 विधानसभा चुनाव हुए राज्य के पहले निर्वाचित मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी अब तक के सबसे बुजुर्ग मुख्यमंत्री रहे हैं जबकि वर्तमान मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी सबसे युवा मुख्यमंत्री है।

राज्य के पहले मुख्यमंत्री नित्यानंद स्वामी 76 वर्ष की उम्र में मुख्यमंत्री बने जबकि भगत सिंह कोश्यारी 59 वर्ष की उम्र में, एनडी तिवारी 76 वर्ष की उम्र उम्र में मुख्यमंत्री बने तो भुवन चंद्र खंडूरी 72 वर्ष की उम्र में, रमेश पोखरियाल निशांक उम्र 50 वर्ष की उम्र में मुख्यमंत्री बने तो विजय बहुगुणा और हरीश रावत 65 वर्ष की उम्र में, त्रिवेंद्र सिंह रावत एवं तीरथ सिंह रावत 56 वर्ष की उम्र में मुख्यमंत्री बने जबकि पुष्कर सिंह धामी 47 वर्ष की उम्र में ही मुख्यमंत्री बन गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *