प्राकृतिक बरसात के बाद, जमकर बरसी राजनीति में आरोपों की बरसात -: पढ़े पूरी खबर

जी हां जैसे ही प्रकृति की आपदा से लोग निपट रहे हैं वैसे ही राजनीति में आपदा का सैलाब उमड़ रहा है जहां कांग्रेस के नेता बीजेपी पर तथा बीजेपी के नेता कांग्रेस पर कई सारे आरोप लगा रहे हैं।

कांग्रेसी नेताओं का कहना है कि बीजेपी आपदा से निपटने में सक्षम नहीं हो पाए तथा आपदा पीड़ितों को राहत भी नहीं दे पाए कांग्रेस के अध्यक्ष हरीश रावत का कहना है कि यदि 27 अक्टूबर तक आपदा पीड़ितों को राहत नहीं दी गई तो कांग्रेस 28 अक्टूबर से आंदोलन कर देगी तथा बिना खाए पिए उपवास भी करेगी कांग्रेस ने यहां तक कह दिया कि आपदा के दौरान बीजेपी के नेता मुंह छुपाए बैठे थे।

वहीं भाजपा के क्षेत्र अध्यक्ष मदन कौशिक ने कांग्रेस के आरोपों का जवाब देते हुए कहा की इतने मुश्किल दौर में भी कांग्रेस राजनीति करना चाहती हैं उनका कहना है कि आपदा से पहले ही 17 अक्टूबर को प्रशासन ने अलर्ट घोषित कर दिया था व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा गृहमंत्री अमित शाह दोनों मामले को लेकर सक्रिय हो गए थे तथा पुष्कर सिंह धामी खुद आपदा ग्रसित क्षेत्रों का निरीक्षण करने पहुंचे थे. गृह मंत्री अमित शाह ने राज्य का हवाई निरीक्षण भी किया था. मदन कौशिक का कहना है कि कॉन्ग्रेस राजनीति के लिए आपदा का सहारा ले रही है

वही हरीश रावत ने इसका जवाब देते हुए कहा कि यदि आपदा पीड़ितों से मिलना और राहत प्रदान करना राजनीतिक है तो हम बार-बार राजनीति करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *