अलर्ट- उत्तराखंड से अब ज्यादा दूर नहीं है ओमिक्रोन, राज्य सरकार ने जारी कर दिए हैं नए निर्देश

ओमिक्रोन का खतरा जब से भारत पहुंचा है तब से केंद्र और राज्य सरकारेे सतर्क हो चुकी हैं। तथा दुगनी रफ़्तार से इस वायरस से निपटने की कोशिश कर रही हैं उत्तराखंड राज्य के पड़ोसी राज्य दिल्ली में ओमिक्रोन से संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है यहां इस वायरस की पुष्टि होने के बाद उत्तराखंड सरकार ने राज्य को बचाने के लिए कड़े निर्देश जारी कर दिए हैं। अब कोई भी यात्री बिना चेकिंग कराएं उत्तराखंड बॉर्डर के अंदर प्रवेश नहीं कर पाएगा। राज्य सरकार ने राज्य के अंदर भी लोगों को कड़ी सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं। सरकार के निर्देशानुसार लोगों को घर से निकलने पर मास्क पहनना आवश्यक कर दिया गया है तथा जो व्यक्ति मास्क ना पहने उसका चालान काटा जाएगा।

वहीं जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. राजीव दीक्षित द्वारा बताया गया कि सभी निजी एवं सरकारी अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है तथा अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए गए है। इसी के साथ दवाइयों के स्टॉक व स्वास्थ्य कर्मियों की ड्यूटी तय कर दी गई है तथा ऑक्सीजन प्लांटो की रिचेकिंग भी की जा रही है। तथा बाहर से आने वाले यात्रियों की रैंडम सैंपलिंग राज्य की सीमाओं पर कराई जा रही है।

तथा सभी जिलों के जिलाअधिकारियों ने निर्देश जारी कर दिए हैं, कि जिले में जो भी व्यक्ति घर से बाहर बिना मास्क पहने दिखे उसके खिलाफ कार्यवाही की जानी चाहिए। तथा अब राज्य सरकार ने कुछ अहम फैसले लेते हुए यह निर्णय लिया है कि राज्य में जो भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया गया है उसकी जिनोम सीक्वेंसिंग अनिवार्य रूप से कराई जाए। उत्तराखंड में पिछले 2 महीनों में 300 सैंपलों की जिनोम सीक्वेंसिंग कराई गई है।नए वेरिएंट का सामना करने के लिए उत्तराखंड सरकार स्वास्थ्य विभाग व विभिन्न अधिकारी सतर्क हो गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *